Dahi khao contest in Patna Bihar

Curd Competition in Bihar: बिहार की राजधानी पटना में एक अनूठी दही खाने की प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें पूरे बिहार के प्रतिभागियों ने भाग लिया। बिहार में पिछले 10 साल से इस प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। इस कार्यक्रम में तीन श्रेणियां थीं – जिनमें महिला, पुरुष और वरिष्ठ नागरिक शामिल थे। दही के स्वास्थ्य लाभों को बढ़ावा देने के लिए Sudha Dairy  द्वारा प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था।

प्रचार का अनूठा ढंग जो अच्छी सेहत के पक्ष में था

Unique Curd Competition in Bihar
Curd Competition in Bihar – दही खाओ प्रतियोगिता में भाग लेते प्रतियोगी

किसी उत्पाद को बढ़ावा देने और प्रचार करने का यह एक अनूठी पहल है। हम अपनी भागदौड़ भरी ज़िंदगी में अच्छी सेहत के लिए वक्त नहीं निकाल पाते। अगर दही को नियमित रूप में शामिल कर लाइन तो कई बीमारियों से छुटकारा मिल सकता है। चाहें चर्बी घटाना हो या अपना मेटोबोलिस्म बढ़ाना हो (Increase Metabolism) दही एक कुदरती आहार है।

दही में काफ़ी प्रचुर मात्रा में कैल्सीयम पाया जाता है, जो BMI यानी बीएमआई को क़ाबू में रखने में कारगर होता है। अपनी रोज़ाना डाइट में दही को शामिल करने से बहुत से लाभ मिलते है। विशेषज्ञों के अनुसार दही पाचन तंत्र को मजबूत करता, आपका स्टेमिना और  इम्यूनिटी  बढ़ाता भी है। कहा जाता है कि दही खाने से तनाव भी कम होता है।

किस किस ने जीती प्रतियोगिता

Curd Competition in Bihar
जीतने की होड़ में प्रतियोगियों ने की सभी हदें पार

इस दही खाओ प्रतियोगिता (Curd Competition in Bihar) में प्रतियोगियों ने जल्दी से दही खाने की सारी हदें पार कर दीं। जैसे तैसे दही खतम करने की होड़ में हर उम्र के प्रतियोगी ने ग़ज़ब का जज़्बा दिखाया। यह काफ़ी मनोरंजक भी हो गया था। पुरुषों में बाढ़ निवासी अजय कुमार ने 3 मिनट में 3 किलो 420 ग्राम दही खाकर प्रथम स्थान प्राप्त किया। महिलाओं में पटना निवासी प्रेमा तिवारी ने 3 मिनट में 2 किलो 718 ग्राम दही खाकर टॉप किया है।

शंकर कांत जी ने फिर दिखाया अपना जौहर

वहीं सीनियर सिटीजन व डिफेंडिंग चैम्पियन शंकर कांत ने तीन मिनट में तीन किलो 647 ग्राम दही खाकर प्रथम पुरस्कार जीता। इन तीनों प्रतियोगियों ने दही श्री का खिताब जीता। शंकर कांत ने साल 2020 में 4 किलो दही खाकर यह खिताब जीता था।

दही खाओ प्रतियोगिता (Curd Competition in Bihar) के कुछ चित्र

इस “दही खाओ प्रतियोगिता” (Curd Competition in Bihar) में कुल 500 लोगों ने भाग लिया। पटना डेयरी परियोजना के अध्यक्ष संजय कुमार ने सभी प्रतिभागियों का इस प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए आभार व्यक्त किया।

Why Mosquito bites me more than others ? – क्यूँ कुछ लोग ही होते हैं मच्छरों के काटने का अधिक शिकार

Follow us on Facebook for more such rare facts about unique curd competition in Bihar com bites.

If you like post please consider sharing this in social media